Happy New Year 2020 Essay Speech in Hindi | हिंदी में नववर्ष पर निबंध

Happy New Year 2020 Essay Speech in Hindi | हिंदी में नववर्ष पर निबंध

Happy New Year 2020 Eassy in Hindi.

नमस्कार दोस्तों आज हम Happy New Year 2020 Eassy आपको बताने वाले हैं।

दोस्तों हर साल की तरह भी अब Happy New Year आ रहा हैं तो स्कूल और कॉलेज वाले बच्चोंको भाषण देने के लिए इसकी बहुत ज्यादा जरुरत पड़ेगी तो उनके लिए हम खास करके यह speech लेकर आये हैं।

दोस्तों आज हम आपको Happy New Year पर एक प्रॉपर स्पीच जिसे निबंध भी कहते हैं वह हम आपको बहुत अच्छी तरह से स्टेप बाय स्टेप आपको बताएँगे जिससे अगर आपको लिखना भी हो या स्टेज पर भी बोलना हो तो कोई भी दिक्कत नहीं आएगी।

आपको हम एक प्रॉपर वे में कैसे Happy New Year वाला भाषण दिया जाता हैं और उसमे क्या क्या आपको कहना हैं सभी आपको बताएँगे तो हमारा यह आर्टिकल पुरे ध्यान से पढ़ना और जिससे आपको speech लिखते समय या बोलते समय कोई भी दिक्कत ना आये।

तो दोस्तों चलिए ज्यादा समय न गवाते जानते हैं की Happy New Year का भाषण कैसे और क्या लिखना हैं। चलिए शुरू करते हैं।

दोस्तों हमारा निबंध शुरू करने से पहले आप सबको मेरी तरफ से नववर्ष की ढेर सारी शुभकानाए।

Happy New Year 2020 Essay Speech in Hindi | हिंदी में नववर्ष पर निबंध

दोस्तों आज के दिन आपको मेरी तरफ से Happy New Year की ढेर सारी शुभकामनाये आपका हर एक दिन आपके लिए ऐसे ही आनंददायक और सफलता पूर्वक बीते इसलिए भगवान् से दुआ करता हु। तो चलिए शुरुआत करते है।

दोस्तों Happy New Year का मतलब खुशिया ही खुशिया दोस्तों इस दिन हर कोई ख़ुशी में अपना दिन बिताना चाहता हैं और चाहे भी न क्यू यह साल का पहला और सबसे महत्वपूर्ण दिन होता हैं इसलिए सभी लोग १ जानेवारी को खुश रहने की पुरेपूर कोशिश करते हैं।

दोस्तों ऐसे पुराने ज़माने से माना जाता हैं की साल का पहला दिन आपका जैसा बीतेगा उसी तरह ही सभी साल आपके लिए बीतेगा अब यह बात कितनी सच और कितनी झूट यह तो मैं नहीं जनता पर हमारे पूर्वज इसे पहले से मानते आए हैं।

तो इसलिए कही ना कही हम और हमारे घरवाले इस दिन खुश रहना पसंद करते हैं। और अपने गौर किया होगा की हमारे घर वाले भी हमें इस दिन नहीं डाटते तो इससे ऐसा स्पस्ट होता हैं की कही न कही हमारे घर वाले भी पुरानी बातों पर यकीन कर लेते हैं।

दोस्तों शायद ही दुनिया में कोई ऐसा इंसान होगा की Happy New Year वाले दिन वह खुश नहीं होगा। सच में दोस्तों यह दिन हमारे साल का बेहतरीन दिन होता हैं।

दोस्तों बहुत से लोग इस दिन अपने साल का एक संकल्प बना लेते हैं जैसे की मैं अब यह गलत काम इस साल में दोबारा नहीं करूँगा। मतलब इस दिन को ही लोग अपने इस साल में हमें क्या करना हैं और क्या नहीं करना इसे तय कर लेते हैं।

साल का पहला दिन सभी के घर खुशियोंकी उमंगें लेकर आता हैं। दोस्तों जो लोग हमेशा काम में व्यस्त रहते हैं वह लोग इस दिन सारा अपनी फैमेली के साथ बिताते हैं,घूमने जाते हैं ,फिल्म्स देखने जाते हैं ,बाहर घर वालोंके साथ या फिर दोस्तों के साथ खाने पर जाते हैं सच में सभी लोग इस दिन को एक यादगार दिन बनाना चाहते हैं।

पर एक खेद की बात यह हैं की जिस दिन हम Happy New Year मनाते हैं उस दिन भरतीय संस्कृति के मुताबिक तो New Year हैं ही नहीं। हमारे भारतीय संस्कृति के मुताबिक १ मार्च को नया साल होता हैं उसे भारत में हर राज्य में अलग अलग नाम से जाना जाता हैं। कही जगहों पर नए साल को गुढीपाडवा नाम से ही जाना जाता हैं।

गुढीपाडवा मतलब १ मार्च यह हिन्दू और भारतीय संस्कृति के मुताबिक हमारा नया साल हैं। दोस्तों भारत के कही राज्यों में अभी भी गुढीपाडवा ही नए साल के रूप में माना जाता हैं।

हालांकि शहरोंमें १ जनवरी को Happy New Year मनाया जाता हैं। पर बहुत से लोगों को अब यह सवाल पड़ा होगा की ऐसा कैसे हो सकता हैं की १ मार्च को Happy New Year मनाया जाता हैं तो १ जानेवारी की संस्कृति कहा से आयी तो यह भी आपको बताते हैं।

दोस्तों पुराने ज़माने में भारतीय लोग १ मार्च को ही अपना नया साल मनाते थे। पर दोस्तों जब हमारे देश पर अंग्रेजोने कब्जा किया और जब ईस्ट इण्डिया कंपनी की स्थापना की गयी।
तब वह लोग अपना New Year १ जानेवारी को ग्रेगरियन कैलेंडर के नुसार मनाते थे। तब से भारतीय लोगों ने भी अपनी संस्कृति भूलकर पाश्यात्य संस्कृति (Western Calture) को अपनाया।

तब से आज तक लोगोंका मानना यह हुआ की १ जानेवारी ही हमारा New Year हैं। पर यह पाश्यात्य संस्कृति हैं हमारी संस्कृति के अनुसार गुढीपाडवा ही हमारा New Year हैं।

दोस्तों लोग ३१ दिसम्बर को रात के १२ बजे तक जश्न मनाते हैं। पर दोस्तों सचमुच ख़ुशी के दिन यह लोग बहुत ही घिनोना काम करते हैं दोस्तों आप ही बताओ क्या ख़ुशी हैं हमें भी पता हैं पर ख़ुशी के दिन मद्यपान करना जरूरी हैं क्या?

दोस्तों यह वही लोग जिन्हे सिर्फ ऐसा काम करने के लिए ऐसे मोके चाहिए। दोस्तों सच में हमारे लिए New Year बहुत ही खास होता हैं। इसलिए सभी लोगो ने इसे बहुत ख़ुशी से मनाना चाहिए पर एक बात का ध्यान रखना चाहिए की इस ख़ुशी के भाव में हमसे कोई भी बुरा या घिनोना काम न हो।

तो दोस्तों आपको क्या लगता हैं नया साल १ जानेवारी को मनाना चाहिए या फिर १ मार्च को जिस दिन गुढीपाडवा होता हैं तो आपको क्या लगता हैं हमें कमेंट करके जरूर अपनी राय बताना तो दोस्तों आज के लिए बस इतना ही।

आपको हमारा आर्टिकल कैसा लगा यह हमें जरूर बताना और अगर आपको यह जानकारी पसंद आती हैं तो अपने दोस्तों को जरूर शेयर करे। और हां अगर आपको कोई भी सवाल हो तो हमें आप सीधा कॉन्टैक्ट कर सकते हैं हमारी डिटेल्स आपको Contact Us page में मिलेगी। आप हमें सीधा मेल कर सकते हैं। हम आपकी समस्या का जरूर निवारण करंगे।

तो दोस्तों जाते जाते आपको फिर से एकबार Happy New Year की ढेर सारी शुभकामनाये देते हैं।
धन्यवाद….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *